बच्चों को मोबाइल से नुकसान
|

बच्चों को मोबाइल से नुकसान

आज  के  दौर  में  बच्चों  के  हाथों  में  मोबाइल  फोन  बहुत  कम  उम्र  में  आ  जाता  है  और  बाद  में  वह  हर  समय  मोबाइल  में  ही  लगे  रहते  हैं, उन्हें  खाने -पीने  और  सोने  तक  का  होश  नहीं  रहता , बच्चा  आने  किसी  काम  में  ध्यान  नहीं  लगाता  इससे  उसका  मानसिक  विकास  बाधित  हो  जाता …

परवरिश की सामग्री – स्नेह व अनुशासित आजादी

बच्चों की परवरिश को लेकर लगभग सभी इस दौर से गुजरते हैं और सभी यह सोचते हैं की परवरिश की सामग्री क्या हो , जिससे उनका बच्चा अपने लिए , अपने माता- पिता के लिए , रिश्तेदार ,समाज और सबसे अधिक स्कूल के लिए एक आदर्श बच्चा बने , सब उसको प्यार करें , सब…

बच्चों के लिए सुविधा नहीं सपोर्टिव माहौल जरूरी
|

बच्चों के लिए सुविधा नहीं सपोर्टिव माहौल जरूरी

बच्चे कच्ची मिट्टी की तरह होते हैं परंतु कई बार परवरिश में कुछ ऐसी गलतियां हो जाती हैं जो बच्चों के मानसिक सेहत को प्रभावित कर सकती हैं यह ना केवल बच्चों के मन को प्रभावित करती हैं बल्कि उनकी फिजिकल फिटनेस को भी नुकसान पहुंचा सकती हैं ; बच्चों के शौक को पूरा करना…

बच्चों की बुरी आदतें छुड़ाएं

बच्चों  की  कुछ  आदतें  पेरेंट्स  के  लिए  परेशानी  का  सबब  बनती  हैं  कुछ  छोटी – छोटी  बातों  को  ध्यान  में  रखकर  बच्चे में  पॉजिटिव  बदलाव  लाया  जा  सकता  है  ।                                                   …

बच्चों का स्वभाव

हर  बच्चा  अलग  और  अपने  आप  में  खास  होता  है , बच्चों  पर  जोर  जबरदस्ती  कुछ  भी  थोपना  नहीं  चाहिए | अगर  माएँ  अपने  बच्चों  के  लिए  कोई  खास  मेहनत  नहीं  करती  हैं  तो  बच्चों  से  भी  किसी  चमत्कार  की  उम्मीद  नहीं  रखनी  चाहिए ।                      लेकिन …

बाल साहित्य का बच्चों पर प्रभाव

अच्छी  किताबों  से  मानसिक  और  वैचारिक  विकास  होता  है  और  बच्चे  बड़े  होकर  संपूर्ण  शख्सियत  के मालिक  बनते  हैं । रीडिंग  एक्सपोर्ट , जिम  टेलर्स  कहते  हैं  कि  4  माह  का  बच्चा  पेंन  पकड़ने  लगता  है , रंग बिरंगी  वस्तुओं  पर  उसकी  नजरें  टिकने  लगती  है । आप  थोड़ी  देर  ही  सही  उसके  सामने  किताबों …

बच्चे का व्यक्तित्व आपकी पेरेंटिंग की कुशलता पर निर्भर है

आपके  बच्चे  का  आचरण  और  व्यक्तित्व  आपकी  पेरेंटिंग  की  कुशलता  पर  निर्भर  है । अच्छी  परवरिश  वह है  जिसमें  सहानुभूति  ईमानदारी , आत्मविश्वास , आत्मनियंत्रण , दयालुता , सहयोग , मानवता  आदि  गुण  विकसित  हो , ऐसी  परवरिश  बच्चे  को  एंजायटी , डिप्रेशन , ईटिंग  डिसऑर्डर  और  सामाजिक  व्यवहार  और  नशे  आदि का  शिकार  होने …

बच्चों को बताएं पैसे का महत्व

पैसों  की  अहमियत  और  मनी  मैनेजमेंट  यह  सिर्फ  एक  तर्क  या  शब्द  नहीं  बल्कि  हमारी  जिंदगी  की  एक  अच्छी  आदत  भी  है । हालांकि  यह  अच्छी  आदत  हमारे  बड़े  बुजुर्ग  एक  तरह  से  हमें  विरासत  में  देकर  जाते  हैं  विरासत  के  साथ – साथ  बचपन  से  ही  हमें  इस  आदत  की  ट्रेनिंग  दी  जाती  है…

बच्चों को दंड: सही या गलत

शिक्षकों  और  माता  पिता  द्वारा  किशोरों  या  बच्चों  के  व्यवहार  की  कठिनाइयों  के  बारे  में  शिकायत  करना  बहुत  ही  आम  बात  है  इस  तरह  की  शिकायतों  में  गुस्सा , आक्रोश , अनुशासनहीनता , आक्रामकता,  सामाजिक अनुकूलन  में  कमी  आदि  हो  सकते  हैं  अगर  इसे  सही  तरीके  से  निपटा  नहीं  जाए  तो  इससे  न  केवल  अभिभावक…

बच्चे का भावनात्मक विकास करें

आजकल  जब  सामाजिक  परिदृश्य  बड़ी  तेजी  से  बदल  रहे  हैं  ऐसे  में  नन्हे  बच्चों  पर  भी  काफी  दबाव  पड़  रहा  है                        आज  बच्चों  से  जिंदगी  के  हर  क्षेत्र  में  जिनमें  पढ़ाई , लिखाई , खेल , पाठ्यक्रम  के  अलावा  अन्य गतिविधियों  में  भी  उनसे …